Health & Fitness

कैसे प्रेम आपके शरीर को प्रभावित करता है

हर इंसान प्यार की तलाश में मीलों लम्बा सफर तय कर लेता है | पर वही प्यार आपके शरीर पे जो प्रभाव डालता है ये शायद आपको नहीं पता होगा |
जब कोई इंसान किसी के प्यार में पड़ जाता है तो उसके लिए ये जानना बेहद जरूरी हो जाता है की वो जिससे प्यार करता है वो उससे प्यार करता भी है या नहीं | प्यार या तो इंसान को ढ़ेरों खुशियाँ देता है या ढ़ेरों आँसू देता है| आपको किसी से प्यार है या ये सिर्फ आकर्षण है, इसका समझ पाना भी उतना ही मुश्किल होता है जितना की आप उससे प्यार करते भी है यह नहीं | सामने वाला व्यक्ति आपसे प्यार करता है या नहीं, ये पता करना और टेढ़ी खीर साबित होता है.
प्यार हो जाए तो इजहार कैसे करें ये भी एक समस्या है रहती है. और जब दोनों एक-दूसरे के प्यार को स्वीकार कर लें, तो प्यार में कोई अनबन न हो जाएँ ये भी एक समस्या है.
तो आइए आपको बताते है की कैसे ये प्रेम आपके शरीर को प्रभावित करता है

प्यार अंधा होता है और “पहली नजर में प्यार” असली है और यह रसायनों के कारण होता है

प्यार अँधा होता है हालांकि यह स्पष्ट नहीं हो सका है की ये वाक्यांश में कितनी सच्चाई है जिन वियक्तियों में प्रेम की तीव्र इच्छा होती है या वो प्रेम में संघर्ष कर रहे होते है तो उनमे सेरोटोनिन का स्तर कम हो जाता है
शोधकर्ताओं का दावा है कि किसी को देखकर, किसी व्यक्ति को “तंत्रिका वृद्धि कारक” के रूप में जाना जाने वाला प्रोटीन अचानक अचानक बढ़ने के कारण वो प्यार में पड़ सकता है।सेरोटोनिन का निम्न स्तर कुछ जुनूनी व्यवहार को भी ट्रिगर कर सकता है, इसलिए आप सिर्फ उसकी अच्छी विशेषताओं पर ध्यान केंद्रित करने का चयन करते है जिन पर आप करना चाहते है।

पेट में तितलियों का उड़ना महसूस करना ये भी एक रसायन के कारण होता है

जब आप पहली बार अपने जीवन का प्यार देखते हैं, और आपको लगता है कि आपके पेट में तितलियां उड़ान भर रही हैं, ऐसा नोरेपेनेफ्रिन नामक रसायन की कारण होता है ये हार्मोन आपके हृदय के सभी गति विधियों के लिए जिम्मेदार होता है| मूल रूप से, नोरपेनाफ़्रिन आपके दिल की दर को बढ़ाता है

जब आप अपने प्रेमी या प्रेमिका को देखते है और या आप जिसको पसंद करते है उसको देखते है तो आपके मस्तिष्क में एक बाढ़ आती है- ऐसा वैसोसोप्रेसिन, डोपामाइन और कॉरटिसोल जैसे रसायनों का ये कारण होता है ।

हालांकि मस्तिष्क में रसायन विज्ञान के जबरदस्त परिवर्तन कभी भी स्थायी नहीं होते हैं, यदि रिश्ते जारी रहते हैं परिणामस्वरूप ऑक्सीटोसिन नामक एक हार्मोन के स्तर में वृद्धि होती है ऑक्सीटोसिन का अनुभव पुरुषों और महिलाओं द्वारा अलग तरह से किया जाता है। यह संभोग के दौरान महिलाओं में सहायक है। यही कारण है कि महिलाओं को सेक्स के बाद और अधिक बाचीत करना ज्यादा पसंद करती हैं, जबकि पुरुष केवल सोना चाहते हैं

अगर आपके सिर में दर्द रहता है तो अगर आप प्यार करते है तो ये सर दर्द काम होगा | ऑक्सीटोसिन सिरदर्द को कम करने के में सहायता प्रदान करता है

प्रेम एक ड्रग्स जब आप अपने साथी के आदि हो जाते है तो आपको लगता है जैसे कि आप ड्रग्स पर अपन जीवन गुजार रहे हैं  डोपमाइन मस्तिष्क एक “आनंद रसायन”। डोपामिन का स्तर भी कोकेन और मेथैम्फेटामाइंस जैसे उत्तेजक पदार्थों के साथ बढ़ता है। लोग जब अपने प्रेमी के “आदी” होने का अनुभव करते हैं और उनकी अनुपस्थिति में ये रसायन सक्रिय हो जाता है

आपको अच्छा और बुरे दोनों तरह का तनाव महसूस होगा

प्यार शरीर को कोर्टिसोल के साथ भर देता है, जिससे तनाव बढ़ जाता है। लेकिन तनाव हमेशा ऋणात्मक नहीं होता, क्योंकि यह शारीरिक उत्तेजना के लिए आवश्यक है। लेकिन अगर आपके पास लड़ाई है, तो आपको बुरी तरह तनाव का सामना करना पड़ेगा,

आप अपने प्रेमी की तस्वीर देखकर केवल शारीरिक सुख महसूस करेंगे

शोधकर्ताओं ने पाया है कि किसी के प्यारे कारणों की तस्वीर देखकर मस्तिष्क के कुछ हिस्सों में उच्च रक्त प्रवाह बढ़ जाता है जिससे खुशी महसूस करते हैं। और यदि आप शारीरिक दर्द में हैं, तो अपने प्रेमी की तस्वीर देखे इससे दर्द कम हो जाएगा। अध्ययनों से पता चला है कि प्रेमी की तस्वीर देखने से 40% तक मध्यम दर्द और 15% तक गंभीर दर्द कम हो सकता है।

About the author

News Desk

Add Comment

Click here to post a comment